पिछले साल रिलायंस ने भरा 67 हजार करोड़ का जीएसटी

Share this Post

नई दिल्ली : देश के सबसे बड़े उद्योग घराने रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) के प्रमुख मुकेश अंबानी ने सोमवार को कई बड़े ऐलान किए हैं. रिलायंस की सालाना बैठक में मुकेश अंबानी ने कई बड़े ऐलान किए और भविष्य में आने वाले प्लान के बारे में जानकारी दी.

इस दौरान मुकेश अंबानी ने बताया कि रिलायंस इंडस्ट्रीज़ जीएसटी देने वाली सबसे बड़ी कंपनी है. उन्होंने बताया कि रिलायंस की तरफ से पिछले साल 67 हजार करोड़ रुपये का जीएसटी भरा गया.

कंपनी की 42वीं सालाना बैठक में मुकेश अंबानी ने बताया कि रिलायंस जियो देश समेत दुनिया का सबसे बड़ा मोबाइल ऑपरेटर बन गया है. उन्होंने जानकारी दी कि जियो के 34 करोड़ से ज्यादा ग्राहक बन चुके हैं.

सिर्फ जीएसटी ही नहीं बल्कि आयकर के मामले में भी रिलायंस सबसे आगे है. उन्होंने बताया कि पिछले साल रिलायंस इंडस्ट्रीज़ ने कुल 12191 करोड़ रुपये का टैक्स भरा था.

गौरतलब है कि इस बैठक के दौरान कई अन्य नई योजनाओं की जानकारी दी गई. इसके अलावा RIL को सबसे बड़ा निवेश भी मिला है.

RIL के ऑयल और केमिकल डिविजन में सऊदी अरब की कंपनी ”सऊदी अरेमेको” ने  20 फीसदी का निवेश करने का फैसला लिया है.

सोमवार को मुकेश अंबानी ने बताया कि आने वाली 5 सितंबर से RIL की तरफ से जियो फाइबर सर्विस की शुरुआत की जा रही है.

इसके तहत ग्राहकों को मात्र 700 रुपये प्रति महीना के तहत प्लान दिया जाएगा, जिसके तहत कई सुविधाएं दी जाएंगी.

और पढ़ें :  


Share this Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

r