कंपोजिशन जीएसटी स्कीम में रिटर्न भरने को लेकर बदलाव

Share this Post

– कंपोजिशन जीएसटी स्कीम वालों को तिमाही रिटर्न में खरीद का ब्योरा देने की जरूरत नहीं

नई दिल्ली : वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के तहत कंपोजिशन स्कीम का लाभ लेने वाले कारोबारों को अपने तिमाही रिटर्न जीएसटीआर-4 में खरीद की विस्तृत जानकारी देने की जरूरत नहीं। वित्त मंत्रालय ने बुधवार को यह जानकारी दी।

मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि तिमाही रिटर्न दाखिल करने के लिए जीएसटीआर-4 फार्म में भरी जाने वाली जानकारियों को लेकर कई संदेह हैं।

इसलिए यह स्पष्ट किया जाता है कि जो करदाता कंपोजिशन स्कीम के तहत कर भु्गतान करते हैं उन्हें जीएसटीआर-4 फार्म की तालिका-चार के 4ए क्रमांक में आंकड़ों को नहीं भरना चाहिए।

जीएसटीआर-4 फार्म की तालिका चार के 4ए क्रमांक के तहत करदाता को जीएसटी में पंजीकृत विक्रेता से खरीदे गए सामान की विस्तृत जानकारी देनी होती है। उल्लेखनीय है कि जीएसटी के तहत करीब 18 लाख कारोबारियों ने कंपोजिशन स्कीम का विकल्प चुना है।

यह विकल्प करदाता को रियायत के साथ कर भुगतान करने की सुविधा देता है। साथ ही उनके लिए जीएसटी का अनुपालन आसान बनाता है।

जिनका सालाना कारोबार एक करोड़ रुपये से ऊपर है, वह इस विकल्प का चुनाव कर सकते हैं। जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए जीएसटी रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि 18 अक्टूबर है।

ALSO READ :

कंपोजिशन जीएसटी स्कीम वालों को तिमाही रिटर्न में खरीद का ब्योरा देने की जरूरत नहीं  नई दिल्ली : वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के तहत कंपोजिशन स्कीम का लाभ लेने वाले कारोबारों को अपने तिमाही रिटर्न जीएसटीआर-4
Govt relaxes return filing norms GST Composition scheme

Share this Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

r