जीएसटी इंस्पेक्टर एक लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Share this Post

जयपुर : राजस्थान के अलवर में सेंट्रल जीएसटी इंस्पेक्टर (सीजीएसटी एवं सेंट्रल एक्साइज) को अलवर एसीबी (एंटी करप्शन ब्यूरो) ने एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। इसने कुशालगढ़ स्थित मिठाई की दुकान संचालक से जीएसटी में गड़बड़ी करने का आरोप लगाते हुए चार लाख की रिश्वत मांगी थी।

जानकारी के अनुसार, पीड़ित की शिकायत पर अलवर एसीबी ने मामले का सत्यापन कराया और उसके बाद एक अलवर के नगली सर्किल से इंस्पेक्टर को रिश्वत के पैसों के साथ पकड़ लिया। एसीबी प्रभारी सलेह मोहम्मद ने बताया कि कुशलगढ़ निवासी लोकपाल सैनी ने लिखित शिकायत दी की सेंट्रल जीएसटी इंस्पेक्टर सायर सिंह 12 अक्टूबर को उनकी दुकान पर आए। उनकी दुकान कुशलगढ़ और थानागाजी में है।

उसने कहा कि जीएसटी में गड़बड़ी कर रहे हों। कम आय दिखाकर टैक्स बचा रहे हो। तुम्हारे खिलाफ कार्रवाई होगी। उसके बाद फिर से 15 अक्टूबर को दुकान पर आकर कार्रवाई से बचने की एवज में चार लाख रुपए की रिश्वत मांगी, लेकिन लोकपाल ने पैसे नहीं दिए। इस पर 18 अक्टूबर को इंस्पेक्टर फिर से उनके ऑफिस पहुंचा और कार्रवाई की धमकी देते हुए 22 अक्टूबर को पैसे की व्यवस्था करने के लिए कहा।

लोकपाल ने इसकी सूचना एसीबी को दी। इस पर अलवर एसपी ने मामले का सत्यापन कराया। इसमें मामला सही पाया गया। एसीबी ने लोकपाल के माध्यम से इंस्पेक्टर से फोन पर बातचीत करके तीन लाख में सौदा तय किया। इस पर इंस्पेक्टर ने एक लाख रुपए पहली किस्त 22 अक्टूबर को देने की बात कही। उसके बाद लोकपाल ने सोमवार को जीएसटी इंस्पेक्टर से संपर्क किया। दिन भर वह घुमाता रहा, लेकिन रात को उसने अलवर के नगली सर्किल पर पैसे लेकर बुलाया।

पैसे देने के बाद लोकपाल के इशारे पर एसीबी ने इंस्पेक्टर सायर सिंह को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिय। सलेह मोहम्मद ने बताया कि पूछताछ के बाद मंगलवार को जीएसटी इंस्पेक्टर को एसीबी कोर्ट में पेश किया जाएगा।

ALSO READ :

Intelligence Bureau, IB India
Know About : Intelligence Bureau (IB)

Share this Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *