income tax CBDT logo gstwayout

Budget 2018 : नौकरीपेशा लोग मायूस, इनकम टैक्स सीमा में बदलाव नहीं

Share this Post

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने इनकम टैक्स छूट की सीमा में कोई बदलाव नहीं किया है। सरकार के इस कदम से नौकरीपेशा लोगों को बड़ा झटका लगा है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में अपने पांचवें बजट में यह घोषणा की। अभी ढाई लाख रुपए तक की सालाना आय टैक्स मुक्त है, जबकि ढाई से पांच लाख रुपए की आय पर पांच फीसदी की दर से टैक्स लगता है। इसके अलावा, इस वर्ग में 2,500 रुपए की अतिरिक्त छूट भी है, जिससे तीन लाख रुपए तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगता है। वहीं, 10 लाख रुपये से ज्यादा की सालाना आमदनी पर अभी तक 30 फीसदी के हिसाब से टैक्स लगता रहा है।

अब सैलरी से 40000 घटाकर टैक्स लगेगा
हालांकि, सैलरीड एंप्लॉयीज के लिए राहत की बात यह है कि ट्रांसपोर्ट और मेडिकल एक्सपेंसेज के लिए स्टैंडर्ड डिडक्शन को 40,000 रुपये किया गया है। इससे पहले, फाइनेंशियल ईयर 2014-15 में 80सी के तहत सरकार ने डिडक्शन लिमिट को 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 1.5 लाख रुपये कर दिया था। बजट से पहले टैक्सपेयर्स को उम्मीद थी कि पीपीएफ, टैक्स सेविंग्स एफडी और अन्य प्रावधानों के तहत छूट हासिल करने के लिए इस सीमा को 2 लाख रुपये तक बढ़ाया जा सकता है। हालांकि, ऐसा नहीं किया गया है। फाइनेंस मिनिस्टर ने 80 डी में हेल्थ इंश्योरेंस के लिए 30 हजार के बदले 50 हजार रुपए की छूट दी है. यह छूट सीनियर सिटीजन के लिए है।

ALSO READ : सीमा शुल्क में हुआ इजाफा, जाने क्या हो सकता है नुकसान


Share this Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GSTWayout