गुजरात चुनाव : जीएसटी और नोटबंदी पर जनता की मुहर

Share this Post

नई दिल्ली : गुजरात चुनाव के नतीजों में बीजेपी को स्पष्ट बहुमत मिलने के पूरे आसार नजर आ रहे हैं। ऐसे में क्या मान लिया जाए कि नोटबंदी और जीएसटी जैसे मुद्दों पर जनता सरकार के साथ है? ऐसा इसलिए क्योंकि विपक्ष ने जीएसटी के खराब क्रियान्वयन और नोटबंदी को बीजेपी के खिसाफ मुद्दा बनाया था। राष्ट्रीय लोक वित्त एवं नीति संस्थान की सलाहकार और अर्थशास्त्री राधिका पांडे के मुताबिक गुजरात की जनता की ओर से बीजेपी को बहुमत मिलना इस बात की ओर इशारा करता है कि इन मुद्दों पर जनता सरकार के साथ है और सरकार भी दूसरे चरण के कड़े रिफॉर्म पर आक्रमक तरीके से आगे बढ़ेगी। उन्होंने आगे यह भी कहा कि गुजरात और हिमाचल की जनता ने नोटबंदी और जीएसटी के सरकार के फैसले का समर्थन किया है।

उनके मुताबिक सरकार रिफॉर्म के साथ जनता को यह संदेश देने में सफल रही कि कोई भी रिफॉर्म थोड़े समय के लिए कष्ट देने वाला हो सकता है लेकिन लंबे समय में इसका फायदा जनता को मिलेगा। इसी कारण गुजरात और हिमाचल दोनों ही राज्यों में बीजेपी को स्पष्ट बहुमत देखने को मिल रहा है।

ALSO READ : जीएसटी काउंसिल ने दी मंजूरी, ई-वे बिल फरवरी से होगा लागू

सुधारों में दिखेगी तेजी

एक्सकॉर्ट्स सिक्योरिटी के हेड (रिसर्च) आसिफ इकबाल का मानना है, दोनों की राज्यों में बीजेपी की बढ़त मिलने के बाद यह साफ है कि सरकार की ओर से उठाए गए कदमों पर जनता साथ है। ऐसे में सरकार की ओर से आगे भी कड़े रिफॉर्म किये जाएंगे जो हर लिहाज से अर्थव्यवस्था के लिए सकारात्मक होगा। आसिफ के मुताबिक इन चुनाव नतीजों के बाद सरकार बेनामी संपत्ति, एफआरडीआई बिल, बैंक एनपीए जैसे मुद्दों पर और आक्रामक ढंग से आगे बढ़ेगी।

सोर्स : जागरण


Share this Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *